Text selection Lock by Hindi Blog Tips

Sunday, 7 August 2011

frndship day

'दोस्ती' सिर्फ अल्फाज़ नहीं,
प्यारा सा एहसास है,
दिल के संबंधों की,
प्यारी सी आवाज़ है,
जब - जब चाहा दिल ने,
...तब - तब पाया साथ है,
ऐ दोस्त तुम्हारी दोस्ती पर,
हमको बहुत ही नाज़ है...
!!अनु!!

No comments:

Post a Comment